Har Musibat Se Bachne Ki Dua in Hindi

Musibat Se Bachne Ki Dua

Musibat Se Bachne Ki Dua

हर इंसान अपनी ज़िन्दगी खुशनुमा और गुलज़ार बनाना चाहता है। पर ज़िन्दगी की मुसीबतें हमें कई दफा चैन से जीने नहीं देती। आज के इस दौर में हर इंसान किसी न किसी मुसीबत का शिकार है। अल्लाह ने हमारे लिए मुसीबतों से बचने के लिए कारगर रास्ते दिए हैं, और उन में से एक है ये मुसीबत से बचने की दुआ। Har Musibat Se Bachne Ki Dua को आप ज़िंदगी की किसी भी परेशानी और मुसीबत से बचने के लिए पढ़ सकते हैं।

अगर आपको लगता है की आपकी ज़िंदगी में परेशानियां ढेरा डाल के बैठी हैं तो आप मायूस न हों, और har musibat se bachne ki dua को पड़ें। इस दुआ को पढ़ने से आपकी सारी मुसीबतें और परेशानियां दूर हो जाएंगी। अगर आप अपनी शादी को बचाना चाहते हैं, या आपके शोहर के कारोबार में कोई मसला आ गया है, या आपकी नौकरी में कोई बाधा आ रहीं है तो आप ये मुसीबत से बचने की दुआ इन हिंदी को पढ़ें, ये दुआ बहुत ही कारगर और मोअस्सर साबित होगी और आपकी सभी परेशानियों से आपको तुरंत निजात दिलाएगी और आपकी ज़िन्दगी खुशनुमा बना देगी।

Har Musibat se Bachne Ki Dua in Urdu

Musibat Se Bachne Ki Dua in Hindiये दुआ आप अपने आप को अपने दुश्मनों से बचाने के लिए भी पढ़ सकते हैं। अक्सर आज कल बहुत लोग इस परेशानी का शिकार हैं। अगर आपके कारोबार या निजी ज़िंदगी में ऐसे लोग हैं जो आपको नुक्सान पहुँचाना चाहते हैं या आपका बुरा चाहते हैं तो ये दुआ आपको उन सभी लोगों से बचा कर रखेगी। Har musibat se bachne ki dua को पढ़ने का तरीका नीचे दिए हुआ हैं :

  1. ताज़ा वूदू करे और शांत जगह पर बैठें।
  2. आपको ये दुआ इंशा की दुआ फ़ारिग होकर पढ़ें।
  3. अब आप “फिर एआर-हमार रा हीमेनन” को 2100 दफ़ा पढ़ें।
  4. अब अल्लाह से दुआ करें की वो आपकी मुसीबत को दूर कर दे और आपके परिवार की हिफाज़त करे।

 Musibat se bachne ki dua in hindi को आप को इक्कीस दिन तक पढ़ना है। इस दुआ को पढ़ने के लिए सबसे ज़रूरी है की आप सच्चे और पाक मन से अल्लाह से दुआ करें। इस दुआ से बहुत लोगों ने अपनी ज़िंदगी को संवारा है और परेशानियों से निजात पाई है।

Musibat Ki Dua in Hindi

Har Musibat se Bachne Ki Dua

मुसीबतें हमारी ज़िन्दगी का हिस्सा हैं, और हर इंसान को अपनी ज़िन्दगी में कभी न कभी मुसीबतों का सामना करना ही पड़ता है। अगर आपकी ज़िन्दगी में भी कोई ऐसी परेशानी आ गई है जिस की वजह से आपकी खुशियां छीन गई हैं और आपका परिवार भी इस परेशान हो रहा है तो आप मुसीबत से बचने की दुआ को पड़ें :

क़ुरान पाक के सामने पानी का छोटा बर्तन लेकर बैठें और “अयात ए इस्ताज़ाह” खोल कर उसको ग्यारह दफ़ा पढ़ें। पढ़ने के बाद अल्लाह से दुआ कर और उस पानी के बर्तन पर फूंक दे। अब इस पानी को अपने घर की दीवारों पर छिड़क दें। ऐसे करने से आपके घर में हो रही परेशानियां धीरे-धीरे काम हो जाएंगी।

Musibat Se Bachne Ki Dua In Urdu:

اَللّٰھُمَّ لَا سَھٌلَ اِلَّا مَا جَعَلٌتَہٗ سَھٌلًا وٌَ اَ نٌتَ تَجٌعَلُ الٌحَزٌنِ سَھٌل

Musibat Se Bachne Ki Dua का हिंदी अनुवाद :

ऐ अल्लाह! कोई काम सरल या आसान नहीं जब तक की तू उसे आसान ना कर दे, और तू हर गम, हर परेशानी को आसान कर देता है।

Musibat Se Bachne Ki Dua का अंग्रेजी अनुवाद :

Allahumma la sahla illa ma ja’altahu sahla, wa ‘anta taj-alul hazna idha shi’ta sahla

अगर आपको हमारे मौलवी जी से किसी भी तरह की सलाह-मश्वरा करना है तो आप बेजिझक हमारे नंबर्स पर कॉल कर सकते हैं। हम अपने कस्टमर्स की जानकारी प्राइवेट रखते हैं।

ये भी पढ़ें : Love Marriage Vashikaran Specialist

Our Score
Our Reader Score
[Total: 1 Average: 5]

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*